मैच भी नहीं खेला और ‘पप्पू यादव’ का बेटा हो गया सेलेक्ट

मैच भी नहीं खेला और ‘पप्पू यादव’ का बेटा हो गया सेलेक्ट

नेताओं द्वारा अपन पुत्रों को किसी क्षेत्र में बिना किसी मेरिट के भेजने की बातें तो आपने कई बार सुनी होगी। नया मामला बिहार के सांसद एवं ग़रीबों के मसीहा कहे जाने वाले ‘पप्पू यादव’ के बेटे ‘सार्थक रंजन’ को ले कर आया है।

नवभारत टाइम्स का कहना है कि प्रभावशाली नेता के बेटे को चुनने पर सिलेक्शन कमिटी की काफ़ी आलोचना हो रही है।

अख़बार नवभारत टाइम्स की एक ख़बर के मुताबिक सांसद पप्पू यादव के बेटे ‘सार्थक रंजन’ को इस सीजन में एक भी मैच खेले बिना ही दिल्ली की टी-20 क्रिकेट टीम में चुन लिया गया है।

नवभारत टाइम्स के अनुसार सार्थक के टीम में शामिल होने और अंडर-23 क्रिकेट के टॉप स्कोरर हितेन दलाल के टीम से बाहर होने से सभी लोग हैरान हैं। पप्पू यादव बिहार के मधेपुरा से और उनकी पत्नी रंजीत (कांग्रेस) बिहार के सुपौल से सांसद हैं।

loading...

नवभारत टाइम्स के अनुसार सार्थक के टीम में शामिल होने और अंडर-23 क्रिकेट के टॉप स्कोरर हितेन दलाल के टीम से बाहर होने से सभी लोग हैरान हैं। पप्पू यादव बिहार के मधेपुरा से और उनकी पत्नी रंजीत (कांग्रेस) बिहार के सुपौल से सांसद हैं।

अख़बार के अनुसार मुश्ताक अली टूर्नामेंट में भी सार्थक को चुने जाने पर काफ़ी विवाद हुआ था। उस टूर्नामेंट में सार्थक ने तीन मैचों में 5, 3 और 2 रन ही बनाए थे।

इस सीजन की शुरुआत में भी सार्थक को रणजी ट्रॉफी के संभावितों की लिस्ट में शामिल किया गया था लेकिन उन्होंने खुद ही अपना नाम वापस ले लिया था।

जहां चयन समिति के तीन सदस्य अतुल वासन, हरि गिडवानी और रॉबिन सिंह जूनियर हैं।

हमें फेसबुक पे Like करे

Please follow and like us:
1

Related posts

Leave a Comment